Latest Post

OBJECTIVE SCIENCE QUIZ FOR ALL COMPETITION SERISE 44 BPSC 67th COMPLETE TEST 1

1.बंगाल के गवर्नर जनरल को निम्नलिखित में से किस अधिनियम द्वारा भारत का गवर्नर जनरल बनाया गया था?
(A) चार्टर अधिनियम, 1853
(B) चार्टर अधिनियम, 1813
(C) भारत सरकार अधिनियम, 1858
(D) चार्टर अधिनियम, 1833
उत्तर : (D) चार्टर अधिनियम, 1833

1833 के चार्टर एक्ट ने बंगाल के गवर्नर-जनरल को भारत का गवर्नर-जनरल बना दिया और उसमें सभी नागरिक और सैन्य शक्तियों को निहित कर दिया। गवर्नर-जनरल और उनकी परिषद को विशाल अधिकार दिए गए थे। परिषद को राजस्व के संबंध में पूर्ण अधिकार प्राप्त थे और गवर्नर-जनरल द्वारा देश के लिए एक एकल बजट तैयार किया गया था। पहली बार, गवर्नर-जनरल की सरकार को ‘भारत सरकार’ के रूप में जाना जाता था और उनकी परिषद को ‘भारतीय परिषद’ के रूप में जाना जाता था।

2.निम्नलिखित में से किस आर्थिक घटनावृत्त के अंतर्गत दोनों पक्षों में से प्रत्येक के पास वह वस्तुएँ होती हैं, जिनकी दूसरे पक्ष को आवश्यकता होती है, अंतएव वे बिना किसी मौद्रिक माध्यम के सीधे उन वस्तुओं का परस्पर आदान-प्रदान कर लेते हैं?
(A) आरक्षित पूंजी
(B) लाभ उठाना
(C) वैध मुद्रा
(D) आवश्यकताओं का द्विसंपात
उत्तर : (D) आवश्यकताओं का द्विसंपात

आवश्यकताओं का द्विसंपात एक आर्थिक घटना है जहां दो पक्ष एक वस्तु रखते हैं जो दूसरा चाहता है, इसलिए वे बिना किसी मौद्रिक माध्यम के सीधे इन वस्तुओं का आदान-प्रदान करते हैं। इस प्रकार का विनिमय एक वस्तु विनिमय अर्थव्यवस्था की नींव है। आवश्यकताओं का द्विसंपात का अर्थ है कि दोनों पक्षों को प्रत्येक वस्तु को बेचने और खरीदने के लिए सहमत होना पड़ता है। इस प्रणाली के तहत, एक ही समय और एक ही स्थान पर होने वाले लेन-देन का कारण या प्रेरित करने वाली चाहतों, जरूरतों या घटनाओं की असंभवता के माध्यम से समस्याएं उत्पन्न होती हैं।

3.निम्नलिखित में से कौन-सी पर्वत श्रृंखला दक्षिण अमेरिका में स्थित है?
(A) रॉकी
(B) ग्रेट डिवाइडिंग
(C) ऐण्डीज
(D) आल्पस
उत्तर : (C) ऐण्डीज

ऐण्डीज विश्व की सबसे लम्बी पर्वत शृंखला है जो दक्षिण अमेरिका के पश्चिमी तट पर स्थित है। कुल मिलाकर यह पर्वतमाला 7,000 किमी तक चलती है और लगभग 200 किमी की औसत चौड़ाई रखती है। इस पर्वतमाला की औसत ऊँचाई 4,000 मीटर (13,123 फ़ुट) है। ऐन्डीज़ दक्षिण अमेरिका के सात देशों – कोलम्बिया,अर्जेन्टीना, चिली, बोलिविया, पेरू, ईक्वाडोर और वेनेज़ुएला – से गुज़रती है, लेकिन चिली में इसका विस्तार सबसे अधिक है। यह पर्वत शृंखला नवीन मोडदार होने के साथ इसका संबंध अभिसारी प्लेट सीमांत होने के कारण यह भूकंप व ज्वालामुखी से प्रभावित है।

4.अंग्रेजों ने बंग-भंग (Partition of Bengal) को …………….. में निरस्त कर दिया था।
(A) 1913
(B) 1911
(C) 1905
(D) 1909
उत्तर : (B) 1911

बंगाल-विभाजन 16 अक्टूबर 1905 से प्रभावी हुआ। इतिहास में इसे बंगभंग के नाम से भी जाना जाता है। यह अंग्रेजों की “फूट डालो – शासन करो” वाली नीति का ही एक अंग था। अत: इसके विरोध में 1908 ई. में सम्पूर्ण देश में `बंग-भंग’ आन्दोलन शुरु हो गया। इस विभाजन के कारण उत्पन्न उच्च स्तरीय राजनीतिक अशांति के कारण 1911 में दोनो तरफ की भारतीय जनता के दबाव की वजह से बंगाल के पूर्वी एवं पश्चिमी हिस्से पुनः एक हो गए।

5.निम्नलिखित में से किस वर्ष में कुटुम्ब न्यायालय अधिनियम लागू किया गया था?
(A) 1948
(B) 1984
(C) 1964
(D) 2004
उत्तर : (B) 1984

विवाह और कौटुम्बिक बातों से संबंधित विवादों में सुलह कराने और उनका शीघ्र निपटारा सुनिश्चित करने की दृष्टि से कुटुम्ब न्यायालय स्थापित करने का और उससे संबंधित विषयों का उपबन्ध करने के लिए अधिनियम 1984 है। इस अधिनियम का संक्षिप्त नाम कुटुम्ब न्यायालय अधिनियम, 1984 है। इसका विस्तार जम्मू-कश्मीर राज्य के सिवाय सम्पूर्ण भारत पर है।

6.अंगूर की बेल …………….. का एक उदाहरण है।
(A) जड़ी बूटी
(B) आरोही
(C) झाड़ी
(D) विसर्पी
उत्तर : (B) आरोही

ग्रेपवाइन एक स्टेम-टेंडरिंग क्लाइम्बिंग प्लांट है जो जोरदार ओवरहैंगिंग (कैस्केडिंग) वृद्धि के साथ ऊपर की ओर बढ़ता है। नए अंकुर हर साल 1 – 4 मीटर बढ़ सकते हैं। यह आमतौर पर प्रूनिंग तकनीक के आधार पर 10 मीटर या उससे अधिक की वृद्धि ऊंचाई के साथ एक आकार के झाड़ी के रूप में खेती की जाती है। यह अपने तनों को मोड़कर और सर्पिल संरचनाओं का निर्माण करके पेड़ पर चढ़ जाता है जो उन्हें लंबे समय तक पेड़ पर बने रहने के लिए सहारा देते हैं।

7.प्राचीन भारत में व्यापारी काफिलों के नेता को …………… कहा जाता था।
(A) प्रथम-कुलिका
(B) महा-दंड-नायक
(C) सौंथ-विग्राहक
(D) सार्थवाह
उत्तर : (D) सार्थवाह

सार्थ (कारवां) अंतर्देशीय व्यापार गाड़ियों और कारवां के जरिए किया जाता था। कारवां (सार्थ) में सैकड़ों की तादाद में बैलगाड़ियां होती थीं। कारवां बहुत सुसंगठित होते थे। सार्थ के नेता को सार्थवाह कहा जाता था। लंबे रास्तों के दौरान नदियों, पहाड़ों, घाटियों को पार करने जैसी कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ता था, इसलिए सार्थ बड़े पैमाने पर रसद लेकर चला करते थे। इस दौरान उन्हें भरपूर खाद्य सामग्री के साथ अनुमान लगाकर महीनों के ‌‌हिसाब से पानी का स्टॉक भी लेकर चलना पड़ता था, क्योंकि रास्तों में रेगिस्तान भी पड़ते थे।

8.सर विलियम जोन्स द्वारा 1784 में की स्थापना की गई थी।
(A) एशियाटिक सोसाइटी ऑफ बंगाल
(B) फोर्ट विलियम कॉलेज
(C) कलकत्ता मदरसा
(D) बनारस में संस्कृत कॉलेज
उत्तर : (A) एशियाटिक सोसाइटी ऑफ बंगाल

बंगाल की एशियाटिक सोसाइटी की स्थापना 1784 में सर विलियम जोन्स द्वारा की गई थी। ब्रिटिश राज की तत्कालीन राजधानी कलकत्ता में न्यायमूर्ति रॉबर्ट चेम्बर्स की अध्यक्षता में 15 जनवरी 1784 को दार्शनिक विलियम जोन्स द्वारा इसकी स्थापना की गई थी। एशियाटिक सोसाइटी ऑफ इंडिया का गठन मुख्य रूप से भारत में या भारतीय उपमहाद्वीप में इतिहास, धर्मग्रंथों या क्षेत्रीय ग्रंथों में उपलब्ध प्राच्य ज्ञान को शुरू करने और ज्ञान देने के उद्देश्य से किया गया था।

9.निम्नलिखित ने से कौन-सी एक ऐसी बीमारी है जो बुखार, खासी, सीने में दर्द और वजन घटने जैसे लक्षणों के साथ प्रायः फेफड़ों में विकसित होती है।
(A) डेंगू
(B) मलेरिया
(C) फीलपाँव
(D) क्षय रोग
उत्तर : (D) क्षय रोग

यक्ष्मा, तपेदिक, क्षयरोग, एमटीबी या टीबी एक आम और कई मामलों में घातक संक्रामक बीमारी है जो माइक्रोबैक्टीरिया, आमतौर पर माइकोबैक्टीरियम तपेदिक के विभिन्न प्रकारों की वजह से होती है। क्षय रोग आम तौर पर फेफड़ों पर हमला करता है, लेकिन यह शरीर के अन्य भागों को भी प्रभावित कर सकता हैं। यह हवा के माध्यम से तब फैलता है, जब वे लोग जो सक्रिय टीबी संक्रमण से ग्रसित हैं, खांसी, छींक, या किसी अन्य प्रकार से हवा के माध्यम से अपना लार संचारित कर देते हैं।

10.निम्नलिखित में से कौन-सा कथन गलत है?
(A) ओजोन ऑक्सीजन के दो परमाणुओं द्वारा बना एक अणु है।
(B) क्लोरोफ्लोरोकार्बन (CFC) वायुमंडलीय ओजोन में कमी हेतु उत्तरदायी है।
(C) ओजोन का कवच, सूर्य से आने वाले पराबैंगनी (UV) विकिरण से पृथ्वी की सतह की रक्षा करता है।
(D) ओजोन एक घातक विष होता है।
उत्तर : (A) ओजोन ऑक्सीजन के दो परमाणुओं द्वारा बना एक अणु है

ओजोन तीन ऑक्सीजन परमाणुओं से बना एक अणु है, जिसे अक्सर O3 के रूप में संदर्भित किया जाता है। ओजोन तब बनता है जब ऊष्मा और सूरज की रोशनी नाइट्रोजन के ऑक्साइड (NOX) और वाष्पशील कार्बनिक यौगिकों (VOC) के बीच रासायनिक प्रतिक्रिया का कारण बनती है, जिसे हाइड्रोकार्बन के रूप में भी जाना जाता है। हमारे वायुमंडल में पाए जाने वाले अधिकांश ओजोन का निर्माण सूर्य द्वारा उत्सर्जित ऑक्सीजन अणुओं और पराबैंगनी विकिरण के बीच संपर्क से होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!