Latest Post

SWARAN SINGH COMMITTEE. #Fundamentalduties OBJECTIVE SCIENCE QUIZ FOR ALL COMPETITION SERISE 44

1.निम्नलिखित में से कौन-सा जैन धर्म का एक संप्रदाय है?
(A) हीनयान
(B) दिगंबर
(C) लिंगायत
(D) वज्रयान
उत्तर: (B) दिगंबर

दिगंबर जैन धर्म का संप्रदाय है। दिगंबर संप्रदाय का नाम उसके भिक्षु के एक विशेष अभ्यास के नाम पर रखा गया है। दिगंबर भिक्षु नग्न रहते हैं वे कोई वस्त्र नहीं पहनते हैं। दिगंबर संप्रदाय की विशेषताएं – भिक्षु: मुनि वे किसी भी कपड़े नहीं पहनते हैं जो वे नग्न रहते हैं। श्रावक : ऐलाका वे एक सफेद लंगोटी पहनते हैं। श्राविका: कसुल्लाका वे तीन सफेद कपड़े पहनते हैं। नन: आर्यिका एक सफेद साड़ी पहनती है |

2.चौदहवीं शताब्दी में, निम्नलिखित में से कौन-सा यात्री भारत आया था?
(A) फ्रांस्वा बर्नियर (Francois Bernier)
(B) एंटोनियो मॉन्सेरेट (Antonio Monserrate)
(C) दुआर्ते बरबोसा (Duarte Barbosa)
(D) इब्नबतूता (Ibn Battuta)
उत्तर: (D) इब्नबतूता (Ibn Battuta)

इब्न बतूता का जन्म मोरक्को के टंगियर में 24 फरवरी 1304 ई. को हुआ था। इब्न बतूता ने अपने 30 साल पूरे मध्य पूर्व, भारत, अफ्रीका और दक्षिण पूर्व एशिया की यात्रा में बिताए हैं। 1333 में इब्न बतूता भारत आया और उसने सुल्तान मुहम्मद बिन तुगलक से मुलाकात की। मोहम्मद बिन तुगलक ने बतूता को इस्लामिक कानून के न्यायाधीश और विशेषज्ञ के रूप में नियुक्त किया। इब्न बतूता ने एक प्रसिद्ध यात्रा पुस्तक रिलाह (अरबी में) लिखी।

3.किस अर्थव्यवस्था में एकाधिकार (Monopoly) का प्रयोग किया जाता है?
(A) पूंजीवादी
(B) समाजवादी
(C) मिश्रित
(D) बन्द
उत्तर: (A) पूंजीवादी

अर्थशास्त्र में जब कोई एक व्यक्ति या संस्था का किसी उत्पाद या सेवा पर इतना नियंत्रण हो कि वह उसके विक्रय से सम्बन्धित शर्तों एवं मूल्य को अपनी इच्छानुसार लागू कर सके तो इस स्थिति को एकाधिकार (monopoly) कहते हैं। पूँजीवाद एक आर्थिक पद्धति है जिसमें पूँजी के निजी स्वामित्व, उत्पादन के साधनों पर व्यक्तिगत नियंत्रण, स्वतंत्र औद्योगिक प्रतियोगिता और उपभोक्ता द्रव्यों के अनियंत्रित वितरण की व्यवस्था होती है। पूँजीवाद की कभी कोई निश्चित परिभाषा स्थिर नहीं हुई; देश, काल और नैतिक मूल्यों के अनुसार इसके भिन्न-भिन्न रूप बनते रहे हैं।

4.भारत का प्रथम बायो-ईंधन युक्त वायुयान किसके मध्य चलाई गई थी?
(A) दिल्ली से मैसूर से
(B) दिल्ली से देहरादून
(C) दिल्ली से भुवनेश्वर
(D) दिल्ली से पूना
उत्तर: (B) दिल्ली से देहरादून

भारतीय वायुसेना के प्रमुख परीक्षण स्थल ASTE, बंगलूरू में 17 दिसंबर, 2018 को पायलटों और इंजीनियरों ने An-32 सैनिक परिवहन विमान में पहली बार मिश्रित बायो-जेट ईंधन का इस्तेमाल करते हुए प्रायोगिक उड़ान भरी। यह परियोजना भारतीय वायुसेना, DRDO और CSIR का मिला-जुला प्रयास है। जेट्रोफा बीज से निर्मित तेल और विमानन टरबाइन ईंधन के मिश्रण से प्रणोदित उड़ान देश की पहली जैव ईंधन संचालित उड़ान थी। यह उड़ान सेवा दिल्ली से देहरादून के बीच संचालित हुई, जिसमें 43 मिनट का समय लगा। यह सेवा स्पाइस जेट (Bombardier Q-400) द्वारा मुहैया कराई गई। इस उड़ान में चालक दल के पाँच सदस्यों सहित कुल 25 व्यक्ति सवार थे।

5.राष्ट्रपति पर महाभियोग किस अनुच्छेद के अंतर्गत लगाई जाती है?
(A) अनुच्छेद 72
(B) अनुच्छेद 66
(C) अनुच्छेद 63
(D) अनुच्छेद 61
उत्तर: (D) अनुच्छेद 61

अनुच्छेद 61 राष्ट्रपति के महाभियोग से संबंधित है। भारतीय संविधान के अंतर्गत राष्ट्रपति मात्र महाभियोजित होता है, अन्य सभी पदाधिकारी पद से हटाये जाते हैं। महाभियोजन एक विधायिका सम्बन्धित कार्यवाही है जबकि पद से हटाना एक कार्यपालिका सम्बन्धित कार्यवाही है। महाभियोजन एक कड़ाई से पालित किया जाने वाला औपचारिक कृत्य है जो संविधान का उल्लघंन करने पर ही होता है। यह उल्लघंन एक राजनैतिक कृत्य है जिसका निर्धारण संसद करती है।

6.अराणमुला नौका दौड़ किस राज्य से संबंधित है?
(A) केरल
(B) तमिलनाडु
(C) कर्नाटक
(D) आंध्रप्रदेश
उत्तर: (A) केरल

अराणमुला नौका दौड़ भारत के दक्षिण-पश्चिमी राज्य केरल की सर्वप्राचीन नौका दौड़ है। इसका आयोजन ओणम पर्व के अवसर पर (लगभग अगस्त-सितंबर माह में) अराणमुला नामक स्थान पर भगवान श्रीकृष्ण एवं अर्जुन को समर्पित एक मंदिर के निकट किया जाता है। स्पर्धा के दर्शकों द्वारा किये जाने वाले उच्चस्वरीय गान एवं कोलाहल से उत्साहवर्धन करते हुए नौकाएं जोड़ों में चलती हैं। अरणमूल केरल राज्य की राजधानी से 128 कि.मी दूर स्थित स्थान है। यह पम्पा नदी के तट पर स्थित है।

7.हैदराबाद स्थित चारमीनार किसने बनवाया था?
(A) युसुफ आदिल शाह
(B) मलिक अहमद
(C) कुली कुतुबशाह
(D) अमीर अली बरोद
उत्तर: (C) कुली कुतुबशाह

सुल्तान मुहम्मद क़ुली क़ुतुब शाह, क़ुतुब शाही वंश के पांचवें शासक ने 1591 ई. में चारमीनार का निर्माण किया I चारमीनार भारत के हैदराबाद, तेलंगाना में स्थित एक स्मारक और मस्जिद है। यह विश्व स्तर पर हैदराबाद के प्रतीक के रूप में जाना जाता है और भारत में सबसे अधिक मान्यता प्राप्त संरचनाओं में सूचीबद्ध है। चारमीनार के लंबे इतिहास में 400 से अधिक वर्षों के लिए इसकी शीर्ष मंजिल पर एक मस्जिद का अस्तित्व शामिल है। ऐतिहासिक और धार्मिक रूप से महत्वपूर्ण, यह संरचना के आसपास के लोकप्रिय और व्यस्त स्थानीय बाजारों के लिए भी जाना जाता है, और हैदराबाद में सबसे अधिक बार आने वाले पर्यटक आकर्षणों में से एक बन गया है।

8.’सौभाग्य योजना’ किस से संबंधित है?
(A) घर-घर बिजली पहुंचाने से
(B) बालिका कल्याण से संबंधित
(C) बालिका को स्कूल पहुंचाने का अभ्यान
(D) घर-घर नल जल, पहुंचाने से
उत्तर: (A) घर-घर बिजली पहुंचाने से

सौभाग्य योजना या प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना घरों को बिजली प्रदान करने के लिए भारत सरकार की एक परियोजना है। इस परियोजना की घोषणा सितंबर 2017 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई थी, जिन्होंने कहा था कि दिसंबर 2018 तक विद्युतीकरण प्रक्रिया को पूरा करना है। 2011 के सामाजिक-आर्थिक और जाति जनगणना (SECC) के माध्यम से पहचाने जाने वाले कुछ घरों में मुफ्त बिजली कनेक्शन के लिए पात्र होंगे, जबकि अन्य से ₹ 500 फीस भुगतान की जायेगी।

9.महासागर की गहराई किस यंत्र से मापी जाती है?
(A) पायरोमीटर
(B) फैदोमीटर
(C) स्फेरोमीटर
(D) ग्रेवीमीटर
उत्तर: (B) फैदोमीटर

समुद्र की गहराई नापने के लिए फैदोमीटर का प्रयोग किया जाता है। समुद्र की औसत गहराई लगभग 12,100 फीट है। महासागर के सबसे गहरे हिस्से को चैलेंजर डीप कहा जाता है और यह मारियाना ट्रेंच के दक्षिणी छोर में पश्चिमी प्रशांत महासागर के नीचे स्थित है। मारियाना ट्रेंच में पहली गहराई माप ब्रिटिश सर्वेक्षण जहाज एचएमएस चैलेंजर द्वारा किया गया था, जिसका इस्तेमाल रॉयल नेवी द्वारा 1875 में खाई में अनुसंधान करने के लिए किया गया था। एक फादोमीटर एक गहराई खोजक है जो पानी की गहराई को निर्धारित करने के लिए ध्वनि तरंगों का उपयोग करता है।

10.दांडी मार्च के साथ कौन सा आन्दोलन शुरू हुआ था?
(A) भारत छोड़ो आन्दोलन
(B) स्वदेशी आन्दोलन
(C) सविनय अवज्ञा आन्दोलन
(D) खिलाफत आन्दोलन
उत्तर: (C) सविनय अवज्ञा आन्दोलन

सविनय अवज्ञा आन्दोलन (Civil Disobedience Movement) की शुरुआत नमक कानून के उल्लंघन से हुई। उन्होंने समुद्र तट के एक गाँव दांडी (Dandi, Gujarat) जाकर नमक कानून को तोड़ा, सारा देश जाग उठा हर आदमी गाँधीजी के नेतृत्व की राह देख रहा था। मार्च 1930 से महात्मा गांधी के नेतृत्व में राष्ट्रीय आन्दोलन ने एक नयी दिशा अख्तियार की, जिसकी शुरुआत सविनय अवज्ञा आन्दालेन और दांडी मार्च से हुई। इस प्रकार एक महान् आन्दोलन प्रारम्भ हुआ, जिसकी प्रतिक्रिया के रूप में सरकार का दमनचक्र भी तेजी से चला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!